ICU का फूल-फॉर्म क्या है | ICU full-form in hindi

आज के इस पोस्ट ‘ICU का फूल-फॉर्म क्या है | ICU full-form in hindi’ में हम आपको ICU से सम्बंधित बहुत ही रोचक और अच्छी जानकारी देने वाले है जो की आपको नही पता होगा | ऐसा हम इसलिए बोल रहे है क्योंकि बहुत सारे ऐसे चीज या बाते है जिसे की हम और आप बोलते है लेकिन उस चीज का मतलब हमें नही पता होता है |

 

हम आपको आज के इस लेख में यह सारी बाते जैसे ICU full-form , ICU का मतलब , डॉक्टर्स ICU का उपयोग क्यों और कब करते है जिससे की मरीज जल्दी ठीक हो जाता है और सबसे रोचक तथ्य यह की आई सी यु का सबसे पहले कब उपयोग और क्यों किया गया | यह सारी जानकारी हम आज के इस पोस्ट में cover करेंगे |

 

ICU का full-form क्या है
ICU का full-form क्या है

ICU full-form क्या है | full-form of ICU

ICU का full-form Intensive Care Unit होता है जिसे हिंदी भाषा में गहन चिकत्सा केंद्र कहा जाता है | इसे और भी नाम से जाना जाता है जैसे Critical Care Unit , Intensive Therapy Unit और Intensive Treatment Zone 

 

ICU का मतलब क्या होता है | Meaning of ICU

आपको तो आईसीयु का फूल-फॉर्म तो मालुम हो चूका है अब हम आपको इसका मतलब समझाते है | जैसे की नाम से पता चलता है यहाँ कुछ Critical condition की बात हो रही है | जब मरीज की हालत बहुत ही ख़राब हो रही होती है जैसे की कोई बिमारी या दुर्तघटना हो जाती है तब ऐसे स्थिति में ही मरीज़ को ICU में रखा जाता है जहाँ उसको तुरंत ही दवाई और इलाज़ मिल जाता है |

 

ICU का अविष्कार किसने किया | Who invented ICU

दोस्तों ICU का अविष्कार डेनमार्क के रहने वाले एनेस्थेटिस्ट Bjorn Aage Lbsen ने किया था | वह अपनी मेडिकल की पढाई  कोपेनहेगेन  यूनिवर्सिटी से पूरी की |

 

यह जो ICU का वार्ड होता है यह अस्पताल के अन्य वार्ड की तुलना में अलग होता है | इस वार्ड में सिर्फ वही डॉक्टर्स होते है जो बहुत ही प्रशिक्षित और अनुभव वाले होते है जो की 24 घंटे मरीज़ की देखभाल करते है | ICU वार्ड में बहुत सारे मेडिकल मशीन होते है जो की मरीजों की इलाज़ के दौरान काम आते है |

 

ICU में विभिन्न प्रकार के मशीन | Various Types of Machines in ICU

दोस्तों जैसे की ऊपर के लेख में हमने बताया की ICU वार्ड में नई-नई मेडिकल उपकरण लगे होते है जिससे की मरीज़ का इलाज़ बहुत अच्छे से किया जाता है | हम आपको निचे कुछ उपकरण के बारे में बताने जा रहे है |

 

1. Ventilator :-  यह एक ऐसी मेडिकल उपकरण होता है जिसका उपयोग मरीजों को सांस दिलाने में मदद करता है | जब मरीज़ की हालत बहुत ही नाजुक होती है तब वह अपने से सांस भी नही ले पाता है | उस समय डॉक्टर्स इसी मशीन का उपयोग करते है |

 

2. Heart Monitor :- दूसरी मेडिकल उपकरण जो ICU वार्ड में ज्यादा प्रयोग होता है वो है Heart Monitor जो की देखने में एक टीवी के तरह लगता है | यह उपकरण रोगी के दिल की धड़कन गति-विधि मापती है | यह मशीन मरीज़ से स्टिकी पैड के द्वारा त्वचा से जुदा होता है | यह दिल की गति को रंगीन रेखाओं में दर्शाता है |

 

3. Feeding Tube :- ऐसी स्थिति जब मरीज़ अपने से खा भी नहीं सकता तो उस समय यह उपकरण का प्रयोग किया जाता है जिसमे इस tube को रोगी के नाक से जोड़कर नस के माध्यम से भोजन दिया जाता है |

 

4. Drens and Cathetor :- ड्रेंस का काम शरीर से तरल पदार्थडा जैसे खून को बाहर निकालना होता है और कैथेटर का काम मूत्र को निकलने के लिए किया जाता है |

यह मेडिकल उपकरणे बहुत ही उपयोगी होता है जो की डॉक्टर्स के कामों को और भी सुरक्षित और प्रभावी बनाती है |

 

मरीज़ को ICU में क्यों रखा जाता है ?

मरीज़ को ICU में तब रखा जाता है जब उसकी हालत बहुत की ख़राब होती है , जैसे की जब कोई व्यक्ति गंभीर बिमारी या सड़क दुर्घटना में बहुत ही बुरी तरह से चोटिल हो जाता है तब मरीज़ को ICU में रखना होता है नही तो जान भी सकती है |

 

इसमें और भी कुछ सामान्य बीमारी है जिसमे रोगी को ICU में रखा जाता है जैसे शरीर के किसी हिस्से की बड़ी सर्जरी , गंभीर दुर्घटना, गंभीर रूप से जलने पर, किसी प्रकार की गंभीर बीमारी जैसे किडनी फेल , हार्ट अटैक , ब्रेन स्ट्रोक और भी कुछ खतरनाक बिमारियों में रोगी को ICU में रखा जाता है |

 

और 2020-21 में कोरोना जैसे जानलेवा बिमारियों में भी मरीज़ को ICU में रखा जाता है जहाँ उसकी इलाज़ 24 घंटे की जाती है | जब कोई भी नवजात समय से पहले जन्म लेता है तो उस समय भी बच्चे को आईसीयु में रखा जाता है |

 

मरीज़ को ICU में कैसे रखा जाता है ?

जैसे की हमने इस लेख के पूर्व में ही बताया की ICU वार्ड में बहुत सारे मेडिकल उपकरण लगे होते है जिससे की मरीज़ के इलाज किया जाता है | इस वार्ड में डॉक्टर्स मरीज़ के शरीर में कुछ तारों और cable को लगाते है जो कि सीधे मशीन जैसे हार्ट मॉनिटर और vantilator से जुड़े होते है | इस वार्ड में प्रत्येक मरीज़ के लिए कम से कम एक प्रशिक्षित नर्स होते है जो रोगी की देखभाल करते है |

 

निष्कर्ष

आज के इस लेख ‘ICU का फूल-फॉर्म क्या है | ICU full-form in hindi’ में हमने आपको बहुत सारी जानकारियाँ दी ICU के संदर्भ में | हमे ऐसी ही सामान्य चीज की जानकारी पता होनी चाहिए जो की एक आम बात है | हमे आशा है की आप लोग को यह पोस्ट बहुत ही पसंद आई होगी |

अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया में share जरूर करें जिससे की यह लेख और भी लोगो तक पहुंचे और ज्ञान अर्जित करें |

नमस्कार दोस्तों , मैं मनिष कर्मकार , Founder of Hindiease आपका स्वागत करता हूँ | मुझे ब्लॉग लिखना बहुत ही अच्छा लगता है | मैं अलग-अलग टॉपिक्स पर हिंदी में ब्लॉग लिखता हूँ| आप मेरे बारे में About Us page पर जाकर पढ़ सकते है |

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap