CNG full-form in hindi | सीएनजी क्या है | सीएनजी के फायेदे व नुकसान

आपने ने CNG गैस के बारे में तो सुना ही होगा क्योंकि अब बहुत से जगहों में वाहनों में पेट्रोल व डीजल के बजाय सीएनजी गैस भरी जाती है | क्या आपको CNG का फुल फॉर्म पता है ,

क्या आपको पता है कि आखिर CNG गैस में ऐसा क्या है कि इससे वातावरण प्रदुषण का खतरा बहुत ही कम हो जाता है | क्या आपको पता है कि CNG गैस कैसे बनाया जाता है |

अगर आप इन सभी प्रश्नों का उत्तर जानना चाहते है तो आज के इस लेख ‘CNG full-form in hindi | सीएनजी क्या है | सीएनजी के फायेदे व नुकसान‘ में हम आपको सभी प्रश्नों का उत्तर देंगे , इसके लिए आपको हमारे इस पोस्ट को पढना होगा |

 

CNG full-form in hindi
CNG full-form in hindi

 

CNG Full-form in hindi

दोस्तों CNG (सीएनजी) का फुल-फॉर्म Compressed Natural Gas होता है जिसे हिंदी में ‘संपीडित प्राकृतिक गैस’ कहा जाता है | सीएनजी प्राकृतिक गैस का ही प्रकार है |

 

CNG (सीएनजी) क्या है ? What is CNG in hindi ?

CNG धरती के अन्दर पाए जाने वाला  एक प्राकृतिक गैस है जिसका प्रयोग वाहनों में इंधन के रूप में किया जाता है | यह गैस हाइड्रोकार्बन युक्त होता है जिसमे 80-90 फीसीदी मीथेन गैस पाया जाता है |

CNG गैस का न कोई रंग , न कोई गंध और न ही यह जहरीला होता है | आपको जानकर हैरानी हो सकती है कि पेट्रोल अथवा डीजल कि तुलना में यह गैस 70 फीसीदी कार्बन मोनोऑक्साइड 85 फीसीदी नाइट्रोजन गैस और लगभग 90 फीसीदी  बायो गैस उत्सर्जित करती है |

 यही कुछ गुण है जो कि CNG गैस को और प्राकृतिक गैसों कि तुलना में अच्छा और वातावरण के अनुकूल माना जाता है |

 

CNG (सीएनजी) गैस कैसे बनाया जाता है ?

हम सभी जानते है कि धरती के निचे प्राकृतिक गैस पाई जाती है , जिसे निकालकर भूमिगत पाइपलाइन के माध्यम से सर्विस स्टेशन ले जाया जाता है |

इसके बाद विभिन -विभिन मशीनों अथवा उपकरणों द्वारा इस गैस को 200 से 250 बार दवाब पर संपीड़ित (compressed) अवस्था में किया जाता है | 

इसके बाद compressed गैस को स्टोर किया जाता है और जगह – जगह CNG पंप में भेजे जाते है और उसके बाद वाहनों में CNG गैस को भरा जाता है |

 

CNG गैस का इतिहास – History Of CNG Gas

प्राकृतिक गैसों की खोज सन 1626 को अमेरिकन वैज्ञानिक विलियम हार्ट ने किया था| सीएनजी गैस कि पहचान करीब 1800 ई में किया गया |

ऐसा माना जाता है कि दुत्तीय विश्व युद्ध में इस गैस का प्रयोग वाहनों में ट्रांसपोर्टेशन के लिए किया गया था | उसके बाद धीरे-धीरे इसका प्रयोग बढ़ने लगा | उसके बाद बहुत सारे देशों ने सीएनजी गैस को एक अच्छा इंधन के रूप प्रयोग किये जाने लगा |

 

सीएनजी गैस के Components – Components of CNG gas

सीएनजी गैस की मुख्य component हाइड्रोकार्बन है जिसमे 93 फीसीदी मीथेन (CH4) पायी जाती है | इसके अलावा इसमें नाइट्रोजन , कार्बनडाइऑक्साइड , प्रोपेन और इथेन  भी पाए जाते है |

जबकि बहुत सारे इंधन में toxic पदार्थ जैसे lead , sulphur पाए जाते है जो कि मानव और वातावरण दोनों के लिए बहुत ही नुकसानदेयक है |

यह सीएनज गैस हवा कि तुलना में हलकी होती है जिसके कारण किसी भी तरह का सिलिंडर leakage होने पर toxic पदार्थ ऊपर उड़ जाता है और बाकी कि गैस हवा में मिल जाती है जिससे किसी भी तरह का कोई नुकसान नही होता है |

 

सीएनजी गैस के गुण – Properties of CNG Gas

जैसे कि आपको हम बताये कि सीएनजी गैस की कुछ ऐसी गुण है जो कि इस प्राकृतिक गैस को किसी और जैसे पेट्रोल और डीजल कि तुलना में काफी अच्छा और किफायती माना जाता है |

 

  • इस गैस का कोई गंध नही होता है, यह गैस बिलकुल गंधहीन होता है |
  • CNG गैस का कोई रंग भी नही होता है, यह पूरी तरह से रंगहीन होता है |
  • इस गैस का Octane number किसी और इंधन की तुलना में अधिक होता है जो कि लगभग 128 होता है |
  • इस गैस कि प्रज्‍वलनशील बहुत ही कम होती है , यह गर्म सतह पर आसानी से आग नही लगती है |
  • सबसे अच्छी बात यह है कि सीएनजी गैस non-toxic होता है , जो कि किसी भी प्रकार से किसी को भी नुकसान नही पहुंचता है |
  • इस गैस कि कीमत पेट्रोल अथवा डीजल से कम होती है |

 

CNG गैस के फायेदे और नुकसान :-

फायेदे  नुकसान
सीएनजी गैस कि कीमत और इंधन कि तुलना में कम होती है  सीएनजी गैस सिलिंडर रखने के लिए गाड़ियों में अधिक जगहों कि आवश्यकता होती है 
यह गैस प्रयावरण के अनुकूल होती है  सीएनजी गैस स्टेशन , हमारे यहाँ बहुत कम है 
सीएनजी गैस से चलने वाली वाहनों का माइलेज बहुत ज्यादा होती है  सीएनजी गैस किट की कीमत 20 से 30 हजार होती है जो कि एक बहुत बड़ी राशि है 
सीएनजी गैस से चलने वाली वाहनों कि maintenance Cost कम होती है  सीएनजी गैस का कोई गंध नही होने के कारण , इसका leakage पता करना थोडा मुश्किल होता है 
सीएनजी गैस वाहनों कि इंजन को लम्बे समय तक के लिए फिट रखता है  CNG गैस से चलने वाले इंजन को ज्यादा सर्विस कि जरूरत पड़ती है |
यह गैस पेट्रोल व डीजल कि तुलना में कम  प्रज्‍वलनशील होती है  CNG स्टेशन कि कमी के कारण  गैस भरने के लिए स्टेशन पर ज्यादा इंतजार करना पड़ता है |

 

निष्कर्ष

आज के इस लेख CNG full-form in hindi में हमने आपको CNG गैस से सम्बंधित बहुत सारे जानकारी प्रदान की है | हमें आशा है कि यह पोस्ट आपको बहुत ही पसंद आई होगी |

बढ़ते प्रदुषण और पेट्रोल तथा डीजल के कीमतों को देखते हुए हमें CNG गैस वाहनों को अपनाना चाहिए क्योंकि यह हमारे साथ-साथ पर्यावरण के लिए भी अच्छा है | 

क्या आपको यही लगता है तो कमेंट करके जरूर बताइए तथा इस पोस्ट सोशल मीडिया में शेयर जरूर करें ताकि हमारे इस पोस्ट को और भी ज्यादा लोग पढ़ सके और जानकारी ले सके | 

नमस्कार दोस्तों , मैं मनिष कर्मकार , Founder of Hindiease आपका स्वागत करता हूँ | मुझे ब्लॉग लिखना बहुत ही अच्छा लगता है | मैं अलग-अलग टॉपिक्स पर हिंदी में ब्लॉग लिखता हूँ| आप मेरे बारे में About Us page पर जाकर पढ़ सकते है |

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap